Celebrating Great Writing

About Us

ShajarEkhwab
ShajarEKhwab Cover Image

शजर – अर्थात वृक्ष , ख्वाब अर्थात सपने , शजर ~ए ~ ख्वाब : ख्वाबों का वृक्ष , यह तब शुरू हुआ जब मैं और मेरा छोटा भाई जो महादेवी वर्मा, गुलज़ार , अमृता प्रीतम जी जैसे दिग्गजों को पढ़ते और डिसकस करते। अलग अलग जगह अलग अलग पड़े इन महान व्यक्तियों के शब्दों को हम खुद के लिए इक्कठा करते थे – जैसे गर्मी की छुट्टियों में आपने आँगन में जामुन बिना करते थे फिर कई बहुत ही उम्दा लिखने वाले दोस्त बन गए – और दोस्त ज़िन्दगी बेहतर बनाने लगे तो सोचा ~ अगर उनकी लिखाई भी यहाँ डाल दें तो क्या कहने बस कारवां पुरानी डायरी से निकल कर ~ यहाँ फेसबुक पर आ गया है चलें साथ चलतें हैं ~ ढूँढते हैं और दोस्त ~ या जन्मों के धागों में बुने लम्हो को इन ख्वाबों के पेड़ पर टांक देतें हैं …. वैसे ही…. जैसे अम्मा बटन टाक दिया करती थी ~ फ्रॉक पे ~ या तारों को आसमां पे….

 

Shajar~ means Tree, Khwab means Dreams. Shajar~e~Khwab is Tree of Dreams: the idea started when me and my brother who are fans of Mahadevi Verma, Gulzar, Amrita, Imroz, Faiz Ahmed, and many more decided to dedicate a page for these greats, and build a community where we can share what we love in their writings. We also wanted to create a page where budding great writers can share their couplets and shayari and they get proper mention. So come together as we create the platform : Of Love Longing and Joy.

Next Steps…

If you want to publish your great poems and stories, just send us an email and we will help you publish to our community.


Email us

Back to top